> 21 Best हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार

21 Best हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार

हाई बीपी होना एक खतरनाक समस्या है, जो कि हार्ट अटैक, स्ट्रोक आदि जानलेवा स्थिति पैदा कर करता है। हाई ब्लड प्रेशर से बचने के लिए कई सारे टिप्स बताए जाते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल कैसे करे। अगर नहीं, तो यह आर्टिकल अंत तक पढ़ें। इस आर्टिकल में हाई ब्लड प्रेशर का देसी इलाज बताया गया है तो चलिये जानते है कि ऐसे कौन-कौन-से घरेलू उपाय हैं जो उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में  सहायता करते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल कैसे करे?

1 लहसुन (Garlic)

21 Best हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार
Image by Steve Buissinne from Pixabay

लहसुन हर घर में इस्तेमाल में लाया जाता है। लहसुन ब्लड प्रेशर ठीक करने में बहुत मददगार होता है। लहसुन से हाई बीपी को नियंत्रित कर सकते हैं। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से बचने के लिए रोज़ाना खाली पेट लहसुन की 2 कलियाँ पानी के साथ चाबकर खायें। लहसुन के बीपी कम करने वाले गुण ज्यादातर इसमें एक यौगिक एलिसिन के कारण होते हैं जो रक्त वाहिका स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है और आंशिक रूप से इसके एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण होता है जो रक्तचाप को नियंत्रण में रखने में भी योगदान देता है।

2 आँवले के रस (Amla Juice)

आंवला या भारतीय आंवला रक्तचाप के लिए एक प्रभावी आयुर्वेदिक औषधि है। इसमें विटामिन सी होता है जो रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है और रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करता है। अगर आप रोज सुबह खाली पेट आंवले का रस पीते हैं तो यह हाई बीपी और अन्य बीमारियों को भी नियंत्रित कर सकता है। एक बड़ा चम्मच आँवले का रस और इतना ही शहद मिलाकर सुबह शाम लेने से हाई ब्लड प्रेशर में फायदा होता है। इससे उच्च रक्तचाप का उपचार होता है।

3 तुलसी और नीम (Tulsi and Neem Water)

तुलसी के पत्ते या पवित्र तुलसी उच्च रक्तचाप के लिए एक प्रभावी उपचार के रूप में जाने जाते हैं। जर्नल स्टडीज ऑफ एथनो-मेडिसिन के अनुसार, नीम और तुलसी का संयोजन उनके सक्रिय यौगिकों के कारण रक्तचाप के स्तर को कम करने के लिए फायदेमंद था। हाई बीपी के इलाज के लिए पाँच तुलसी के पत्ते तथा दो नीम की पत्तियों को पीस लें। इसे एक गिलास पानी में घोलकर खाली पेट सुबह पिएं। इससे हाई ब्लड प्रेशर के लक्षणों का इलाज होता है।

4 काली मिर्च (Black Pepper)

काली मिर्च को पाइपर नाइग्रम के नाम से भी जाना जाता है, यह एक फूलदार बेल है, जो पाइपरेसी परिवार से आती है। काली मिर्च की खेती इसके फल के लिए की जाती है जिसे पेपरकॉर्न कहा जाता है। एंटीऑक्सिडेंट के गुणों से भरपूर, काली मिर्च स्वाभाविक रूप से रक्तचाप को प्रबंधित करने और हृदय स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकती है। इसके अलावा, काली मिर्च की चाय भी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने में मदद करती है और गले में खराश को ठीक कर सकती है।

जब ब्लड प्रेशर बढ़ जाए तो एक चम्मच गुनगुने पानी में काली मिर्च पाउडर का एक चम्मच घोल लें। इसे दो-दो घंटे के बाद नियमित करें। इससे हाई ब्लड प्रेशर के लक्षणों का उपचार होता है।

Also Read: बर्फबारी In Winters | 12 Best Places To Visit In India

5 पुनर्नवा (Punarnava)

बोएरहविया डिफ्यूसा या पुनर्नवा फूल वाले पौधे की एक प्रजाति है जिसमें कई औषधीय गुण होते हैं। पुनर्नवा, पैशन फ्लावर और नागफनी का मिश्रण बनाएं। इन्हें एक कप गर्म पानी में डालें और पांच से दस मिनट के बाद इन्हें छान लें। लंच और डिनर के बाद इस काढ़े को पिएं।

6 अश्वगंधा (Ashwagandha)

अश्वगंधा एक एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी है, जो न केवल आपके रक्तचाप को कम करती है बल्कि सूजन और तनाव को भी कम करती है। लंच और डिनर के बाद आप अश्वगंधा की चाय पी सकते हैं या एक गिलास गर्म पानी में 1 चम्मच अश्वगंधा पाउडर मिलाकर सुबह खाली पेट पिएं।

7 गोटू कोला (Gotu Kola)

गोटू कोला एक जड़ी बूटी है जो परिसंचरण को बढ़ावा देती है और धमनियों और रक्त वाहिकाओं में तनाव और चिंता से राहत देती है, जिससे रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित किया जाता है। इसे और अधिक प्रभावी बनाने के लिए आप गोटू कोला और अश्वगंधा से बना काढ़ा पी सकते हैं।

Also Read: Pets 21 Warning Signs In Hindi

8 नागफनी (Hawthorn)

21 Best हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार
Image by Ada K from Pixabay

नागफनी जामुन फ्लेवोनोइड्स से भरपूर होते हैं जिनमें क्वेरसेटिन और ओलिगोमेरिक प्रोसीएन्डिन्स शामिल होते हैं जो हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। वे धमनी रक्तचाप को कम करके, रक्त परिसंचरण को भी बढ़ाकर उच्च रक्तचाप के जोखिम को कम करते हैं।

9 नींबू (Lemon)

आप अपने आहार में अधिक नींबू के रस को शामिल करके अपने रक्तचाप को कम कर सकते हैं। आप स्पोर्ट्स ड्रिंक्स, सोडा या पैकेज्ड फलों के रस के बजाय रोजाना एक गिलास नींबू पानी का सेवन कर सकते हैं, जिसमें चीनी मिलाई गई हो। आप नमक के बजाय अपने भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए नींबू के रस और नींबू के छिलके का उपयोग भी कर सकते हैं, इस प्रकार आपके सोडियम सेवन को कम कर सकते हैं

10 पालक और गाजर जूस (Palak and Carrot Juice)

पालक में उबाल आने के बाद इसे ठंडा होने दें और गाजर के साथ जूसर में डाल दें। पालक और अजवाइन के स्वाद को बेअसर करने के लिए एक चम्मच नींबू का रस या कुछ खीरे के क्यूब्स डालें। नमक से परहेज करें क्योंकि इससे बीपी की समस्या बढ़ जाती है। सामग्री में पानी डालें, और फिर इसे अच्छी तरह से मिला लें।

11 मेथीदाना (Fenugreek)

उच्च पोटेशियम और आहार फाइबर सामग्री के कारण मेथी के बीज उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए एक प्रभावी घटक हैं। एक से दो चम्मच मेथी के दानों को पानी में करीब दो मिनट तक उबालें और फिर इसे छान लें। बीजों को ब्लेंडर में डालकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को दिन में दो बार खाएं, एक बार सुबह खाली पेट और एक बार शाम को। अपने रक्तचाप के स्तर में महत्वपूर्ण सुधार देखने के लिए दो से तीन महीने तक इस उपाय का पालन करें।

12 केला (Banana)

केला एक ऐसा फल है जिसे उच्च रक्तचाप वाले लोग इसे नियंत्रित करने के लिए नियमित रूप से खा सकते हैं। केला पोटेशियम का एक समृद्ध स्रोत है, जो सोडियम के प्रभाव को कम करता है। इसलिए कोशिश करें कि रोजाना एक या दो केले जरूर खाएं। केले के साथ, आप सूखे खुबानी, किशमिश, संतरे का रस, पालक, पके हुए शकरकंद और खरबूजे का सेवन कर सकते हैं।

13 अजवायन (Celery)

अजवाइन में मौजूद फाइटोकेमिकल 3-एन-ब्यूटाइलफथालाइड का उच्च स्तर उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में बहुत मदद करता है। Phthalide धमनियों की दीवारों में और उसके आसपास की मांसपेशियों को आराम देने में मदद करता है, जिससे अधिक जगह बनती है और रक्त बिना किसी कठिनाई के प्रवाहित होता है। साथ ही, यह रक्त वाहिकाओं को संकुचित करने वाले तनाव हार्मोन को कम करने में मदद कर सकता है, जो उच्च रक्तचाप में योगदान देता है। रोजाना एक गिलास पानी के साथ अजवाइन खाने की कोशिश करें। यदि आप चाहें, तो आप पूरे दिन अजवाइन खा सकते हैं।

14 नारियल पानी (Coconut Water)

उच्च रक्तचाप वाले लोगों को अपने शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखना चाहिए। रोजाना आठ से 10 गिलास पानी पीना एक अच्छा विचार है। ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए नारियल पानी विशेष रूप से फायदेमंद होता है। खाना बनाते समय आप नारियल पानी के साथ-साथ नारियल तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

15 मिर्च (Pepper)

हल्के उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को लाल मिर्च खाने से लाभ होगा। यह प्लेटलेट्स को एक साथ जमने और रक्त में जमा होने से रोककर रक्त प्रवाह को सुचारू बनाने में मदद करता है। आप फलों या सब्जियों के सलाद में कुछ लाल मिर्च मिला सकते हैं, या एक कटोरी सूप में एक चुटकी मिला सकते हैं। क्यूंकि लाल मिर्च काफी तीखी होती है, आपको बस इसका थोड़ा सा ही इस्तेमाल करना है।

16 तरबूज के बीज (Watermelon Seeds)

तरबूज के बीज में कुकुर्बोसिट्रिन नामक यौगिक होता है, जो रक्त केशिकाओं को चौड़ा करने में मदद करता है। साथ ही यह किडनी की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। यह बदले में रक्तचाप के स्तर को कम करता है और गठिया में भी बहुत मदद करता है। सूखे तरबूज के बीज और खसखस को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें। इस मिश्रण का एक चम्मच सुबह खाली पेट और फिर शाम को लें।

17 प्याज का रस (Onion Juice)

क्वेरसेटिन नामक एक एंटीऑक्सिडेंट फ्लेवोनोल की उपस्थिति के कारण प्याज आपके रक्तचाप को कम करने के लिए भी पाया गया है। रोजाना एक मध्यम आकार का कच्चा प्याज खाने की कोशिश करें। आप आधा चम्मच प्याज का रस और शहद भी मिला सकते हैं और इसे एक से दो सप्ताह तक दिन में दो बार ले सकते हैं।

18 शहद (Honey)

शहद हृदय के दबाव को कम कर सकता है और इसका रक्त वाहिकाओं पर भी शांत प्रभाव पड़ता है, इसलिए यह उच्च रक्तचाप को कम करने में सहायक है। रोजाना सुबह खाली पेट दो चम्मच शहद खाने की कोशिश करें। आप दो चम्मच जीरा पाउडर के साथ एक चम्मच शहद और अदरक का रस भी मिला सकते हैं। इसे दिन में दो बार खाएं। एक और प्रभावी उपाय तुलसी के रस और शहद को समान मात्रा में मिलाकर रोजाना खाली पेट लेना है।

19 टमाटर (Tomato)

उच्च रक्तचाप को प्रबंधित करने के सबसे आसान तरीकों में से एक है टमाटर का जूस। नए शोध में दावा किया गया है कि रोजाना एक गिलास अनसाल्टेड टमाटर का रस पीने से रक्तचाप कम होता है और हृदय रोग का खतरा कम होता है। बेहतर हृदय स्वास्थ्य हर दिन एक गिलास अनसाल्टेड टमाटर के रस का आनंद लेने जितना आसान हो सकता है।

20 अनार (Pomegranate)

अनार में एंटीऑक्सिडेंट और अन्य तत्व होते हैं जो उच्च रक्तचाप और एथेरोस्क्लेरोसिस को रोकने में मदद कर सकते हैं। 2012 का एक पुराना अध्ययन इस बात का सबूत देता है कि 28 दिनों तक रोजाना एक अनार या 1 कप अनार का जूस पीने से उच्च रक्तचाप कम हो सकता है।

21 चुकंदर (Beetroot)

आप चुकंदर से भी बीपी कम करने के उपाय कर सकते हैं। एक चुकंदर और आधी मूली लें। इनको छील कर इनके छोटे-छोटे टुकड़े कर लें। मिक्सर में डालकर जूस निकाल लें। यह जूस दिन में एक बार पीने से हाई बी.पी. कण्ट्रोल में आ जाता है।

22 तिल के बीज (Sesame seed)

तिल के बीज मैग्नीशियम में उच्च होते हैं, जो निम्न रक्तचाप में मदद कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, तिल के बीज में लिग्नांस, विटामिन ई और अन्य एंटीऑक्सिडेंट आपकी धमनियों में पट्टिका के निर्माण को रोकने में मदद कर सकते हैं, संभावित रूप से स्वस्थ रक्तचाप बनाए रख सकते हैं। दिन में 1/2-1 टेबल स्पून या अपने स्वादानुसार भुने हुए तिल खाइए. या आप अपने स्वाद के अनुसार सलाद में तिल भी मिला सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए

21 Best हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार
Image by master1305 on Freepik

1 मीठा भोजन (Sugary Food)

2014 के एक अध्ययन से पता चलता है कि मीठे खाद्य पदार्थ नमक से भी अधिक रक्तचाप बढ़ा सकते हैं। अध्ययन में उच्च फ्रुक्टोज कॉर्न सिरप वाले खाद्य पदार्थों का उल्लेख किया गया है जो रक्तचाप बढ़ा सकते हैं। निम्नलिखित खाद्य पदार्थों के उदाहरण हैं जिनमें उच्च फ्रुक्टोज कॉर्न सिरप हो सकता है:

  • संसाधित डेसर्ट (processed desserts)
  • पहले से पैक भोजन (prepackaged meals)
  • क्रैकर्स
  • ग्रेनोला बार या अन्य पोषण बार (granola bars or other nutrition bars)
  • मूंगफली का मक्खन (peanut butter)

2 लाल मांस (Red meat)

लाल मांस व्यक्ति के रक्तचाप को बढ़ा सकता है। शरीर में रेड मीट को मेटाबोलाइज़ करने की प्रक्रिया ऐसे यौगिक भी छोड़ सकती है जो रक्तचाप को और भी बढ़ा देते हैं। निम्नलिखित सभी रेड मीट हैं:

  • गौमांस
  • मेमना
  • सुअर का मांस
  • बछड़े का मांस
  • हिरन का मांस
  • बकरी

3 मीठा पेय (Sugary drinks)

जबकि कभी-कभार मीठा पेय पीना ठीक हो सकता है, बहुत अधिक चीनी-मीठा पेय पीने से रक्तचाप बढ़ सकता है। इसके अलावा, कई मीठे पेय पदार्थों में भी कैफीन होता है, जो रक्तचाप को और भी बढ़ा सकता है। सुगन्धित पेय जिनमें कैफीन या उच्च फ्रुक्टोज कॉर्न सिरप शामिल हो सकते हैं, उनमें सोडा और फलों के रस शामिल हो सकते हैं।

4 संतृप्त फॅट्स (Saturated fats)

एक व्यक्ति जो अपना रक्तचाप कम करना चाहता है या उच्च रक्तचाप के अपने जोखिम को कम करना चाहता है, उसे संतृप्त वसा का सेवन सीमित करना चाहिए। संतृप्त वसा वाले खाद्य पदार्थों के उदाहरणों में शामिल हैं:

  • मिठाई, जैसे चॉकलेट, टॉफी, केक, पुडिंग, बिस्कुट, और पेस्ट्री और पाई
  • प्रसंस्कृत मांस (processed meat), सॉसेज, बर्गर, बेकन और कबाब सहित
  • खाना पकाने की वसा, जैसे कि मक्खन, लार्ड, घी, ड्रिपिंग, मार्जरीन, गूज़ फैट, या सूट
  • नारियल तेल और क्रीम और ताड़ के तेल सहित तेल
  • पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्पाद, जैसे कि क्रीम, दूध, दही, क्रीम फ्राइच और पनीर

5 मसाले (Condiments)

उच्च रक्तचाप वाले व्यक्ति को सभी मसालों से परहेज करने की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि, लेबल की जांच करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि कुछ उत्पादों में उच्च मात्रा में चीनी या सोडियम हो सकता है। यह भी महत्वपूर्ण है कि स्वाद पर भरोसा न किया जाए, क्योंकि जिन मसालों का स्वाद नमकीन नहीं होता उनमें भी सोडियम की मात्रा अधिक हो सकती है। ऐसे मसालों के उदाहरण जिनमें अधिक मात्रा में नमक या चीनी हो सकती है, उनमें शामिल हैं:

  • चटनी
  • चिली सॉस
  • सोया सॉस
  • सलाद ड्रेसिंग
  • एक व्यक्ति पैकेजिंग की जांच कर सकता है और उन मसालों को बदल सकता है जो वे अक्सर कम नमक, चीनी या दोनों उत्पादों के साथ उपयोग करते हैं।

6 कैफीन (Caffeine)

कैफीन अस्थायी रूप से रक्तचाप को बढ़ा सकता है, जिससे बहुत अधिक रक्तचाप रीडिंग हो सकती है। कैफीन छोड़ने से आपका रक्तचाप कम हो सकता है और आपके दिल से दबाव कम हो सकता है।

Frequently Asked Questions

Q1 हाई ब्लड प्रेशर में किन चीजों से परहेज करना चाहिए?
Ans: उच्च रक्तचाप में कई कारक योगदान कर सकते हैं, जिनमें निष्क्रियता, अत्यधिक शराब का सेवन और उच्च सोडियम आहार शामिल हैं। सक्रिय रहना, अपने अल्कोहल सेवन को कम करना, और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों और अन्य उच्च सोडियम सामग्री की खपत को सीमित करना फायदेमंद हो सकता है।

Q2 क्या बहुत सारा पानी पीने से रक्तचाप कम हो सकता है?
Ans: कुछ शोध बताते हैं कि निर्जलीकरण रक्त वाहिकाओं के कार्य को ख़राब करके उच्च रक्तचाप के स्तर में योगदान कर सकता है। इसलिए, पूरे दिन खूब पानी पीकर हाइड्रेटेड रहना फायदेमंद हो सकता है। एकेडमी ऑफ न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स के अनुसार, पुरुषों को आमतौर पर प्रतिदिन लगभग 13 कप पानी की आवश्यकता होती है जबकि महिलाओं को लगभग 9 कप पानी की आवश्यकता होती है। हालाँकि, यह राशि आपकी आयु, स्वास्थ्य स्थिति और गतिविधि स्तर सहित कई कारकों के आधार पर भिन्न हो सकती है।

Q3 मैं अपना रक्तचाप तुरंत कैसे कम कर सकता हूं?
Ans: रक्तचाप के स्तर को तुरंत घर पर कम करने का कोई तरीका नहीं है। इसके बजाय, आपको लंबे समय में रक्तचाप के स्तर को कम करने के लिए डॉक्टर के साथ एक उपचार योजना विकसित करनी चाहिए, जिसमें आपके आहार, व्यायाम की दिनचर्या और जीवनशैली में बदलाव करना शामिल हो सकता है।

Disclaimer: इस साइट पर शामिल जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है और इसका उद्देश्य स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर द्वारा चिकित्सा उपचार का विकल्प नहीं है। अद्वितीय व्यक्तिगत जरूरतों के कारण, पाठक की स्थिति के लिए जानकारी की उपयुक्तता निर्धारित करने के लिए पाठक को अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

Leave a Comment

Translate »
Home remedies for Piles | Hemorrhoids Official trailer: Tu Jhoothi Main Makkaar New Punjabi Movies 2023 JEE Main 2023 Result Link Sidharth Malhotra Lands In Jaisalmer