Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing

Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing

हमारी दुनिया में Eyesight कम होना एक आम बात हो गई है। यह 2 प्रकार का होता है; निकट दृष्टि (nearsightedness) या दूरदर्शिता (farsightedness)। अधिक से अधिक लोगों ने खराब दृष्टि से निपटने के लिए या तो चश्मा और contact lenses पहनना शुरू कर दिया है। लेकिन क्या कोई उन्हें पहनना पसंद करता है? वैसे इनमें से ज्यादातर लोगों को चश्मा पहनना बिल्कुल भी पसंद नहीं होता है। फिर भी, उन्हें चश्मा पहनना पढ़ता है।

Eyesight बढ़ाने का एक और तरीका है eye drop डालना या दवाएँ लेना और मान लें, हमें यह विकल्प भी पसंद नहीं है। और जब आंखों की रोशनी से निपटने के लिए ऐसा कोई विकल्प आपके बचाव में नहीं आता है, तो एक है जो आपकी आंखों की रोशनी को प्राकृतिक तरीके से बेहतर बनाने में मदद करता है। यही आयुर्वेद है! आयुर्वेद में, दृष्टि दोष को दृष्टि दोष कहा जाता है और माना जाता है कि यह तंत्रिका संबंधी दुर्बलता, आंत्र समस्याओं का परिणाम है।

एक सुंदर आँख मौन को वाकपटु बना देती हैं, एक दयालु आँख विरोध को स्वीकृति बना देती हैं. और एक क्रोध भरी आँख सुन्दरता को कुरूप बना देती हैं. शरीर का यह छोटा सा सदस्य शरीर के प्रत्येक अन्य अंग को जीवंतता प्रदान कर देती हैं.

Home remedies शायद आंखों की रोशनी बढ़ाने का सबसे आसान और सबसे प्राकृतिक तरीका है। यहां बताया गया है कि आप अपनी आंखों की रोशनी में सुधार के लिए घरेलू उपाय का उपयोग कैसे कर सकते हैं।

15 Home Remedies To Improve Eyesight

1 बादाम (Almonds)

बादाम में मौजूद Omega 3 fatty acids, vitamin E और antioxidants प्राकृतिक रूप से आपकी आंखों की रोशनी में सुधार करते हैं। वे आपको स्मृति शक्ति (memory power) और एकाग्रता (concentration) में सुधार करने में भी मदद करते हैं। इसके लिए आप या तो बादाम ले सकते हैं या फिर भीगे हुए बादाम का पेस्ट बनाकर एक गिलास दूध के साथ पी सकते हैं। इसे कुछ महीनों तक हर दिन करें, जब तक आपको कुछ सुधार दिखाई न दे।

2 सौंफ (Fennel)

प्राचीन रोमन लोग सौंफ को एक अच्छे कारण के लिए ‘दृष्टि की जड़ी बूटी’ कहते थे। इस जड़ी बूटी में पोषक तत्व और antioxidants मोतियाबिंद (cataracts) की प्रगति को धीमा कर देते हैं और स्वस्थ आंखों को बढ़ावा देते हैं। इसके लिए अधिक से अधिक किस्म के बीजों का प्रयोग करना चाहिए। ग्राइंडर में एक कप बादाम, सौंफ और चीनी डालकर पीसकर पाउडर बना लें। सोने से पहले इस चूर्ण को एक गिलास दूध के साथ मिलाकर सेवन करें। इसे 40 दिनों तक दोहराएं और अपनी Eyesight में सुधार देखें।

3 शतावरी (Wild Asparagus)

आयुर्वेद के अनुसार जंगली शतावरी आंखों की रोशनी (eyesight) बढ़ाने के लिए बेहतरीन जड़ी-बूटी है। इस जड़ी बूटी में आंखों के स्वस्थ और लंबे जीवन को बढ़ावा देने की क्षमता है। इसके लिए एक चम्मच जंगली शतावरी को थोड़े से शहद में मिलाकर रोजाना एक कप गर्म गाय के दूध के साथ सेवन करें। इसे कुछ महीनों तक दोहराएं।

4 आंवला (भारतीय करौदा) (Amla – Indian gooseberry)

Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing
Image by Bishnu Sarangi from Pixabay

Eyesight में सुधार के लिए आंवला एक शक्तिशाली आयुर्वेदिक उपचार के रूप में जाना जाता है। भारतीय आंवला या आंवला vitamin c के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है। यह फल antioxidant और अन्य शक्तिशाली पोषक तत्वों से समृद्ध है जो आपकी दृष्टि में सुधार कर सकते हैं। आंवला में मौजूद विटामिन सी retina की कोशिकाओं के कामकाज में सुधार करता है और स्वस्थ केशिकाओं को बढ़ावा देता है। इसके लिए आधा कप पानी में कुछ चम्मच आंवले का रस मिलाएं। इसे दिन में दो बार सुबह और शाम पियें। इसके जूस का सेवन शहद के साथ भी किया जा सकता है।

5 त्रिफला चूर्ण (Triphala powder for eyesight)

त्रिफला आंखों की मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए जाना जाता है और अच्छी दृष्टि और आंखों के स्वास्थ्य का समर्थन करता है। कहा जाता है कि त्रिफला में आंवला की प्रचुरता आलोकक पित्त में सुधार करती है, जो दृष्टि को नियंत्रित करती है। आयुर्वेदिक पांडुलिपियों के अनुसार, आंवला को एक आंख बढ़ाने वाला रसायन माना जाता है। एक चम्मच त्रिफला पाउडर को पानी में जाल कर रात भर के लिए छोड दें। अगली सुबह इस पानी को छान कर इसी से आंखें धुलें। साथ ही अगर आंखें धुलते वक्त मुंह में ताजा पानी भरे रखेंगे तो और भी फायदा मिलेगा। एक ही महीने में आपको फर्क महसूस होगा।

6 गाजर (carrots)

कई अन्य पोषण लाभों के अलावा, गाजर को आपकी दृष्टि में सुधार करने का श्रेय दिया गया है। गाजर में फॉसफोरस, विटामिन ए, विटामिन सी और आयरन की मात्रा काफी होती है जो इसे आंखों के लिए असरदार बनाते हैं। नियमत रूप से कच्ची गाजर को सलाद की तरह खा कर या उसका रस पी कर आप अपनी eyesight तेज कर सकते हैं।

7 बिलबेरी (Bilberry)

Lutein एक एंटीऑक्सिडेंट है जो रेटिना की रक्षा करता है और अच्छी दृष्टि बनाए रखने में सहायता करता है। बिलबेरी के अर्क में एंथोसायनोसाइड और ब्लैककरंट होते हैं, जो दोनों ही आंखों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। बिलबेरी एक तरह का बेर है जो शरीर में खून के बहाव को बढ़ाता है। ताजी बिलबेरी खाने से रात में कम दिखने की बीमारी और कमजोर रोशनी की समस्या दूर हो जाती है।

8 गोभी (Kale)

कई लोगों द्वारा kale को सुपरफूड के रूप में जाना जाता है क्योंकि इसमें बहुत सारे महत्वपूर्ण विटामिन, पोषक तत्व और खनिज होते हैं। यह आंखों के स्वास्थ्य के लिए बेहद अच्छा है। काले में एंटीऑक्सिडेंट ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन होते हैं, जो अंडे और अन्य खाद्य पदार्थों में भी पाए जाते हैं। ये पोषक तत्व गंभीर आंखों की स्थिति जैसे कि उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन और मोतियाबिंद (cataract) को रोकने में मदद कर सकते हैं।

ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन शरीर में नहीं बनते हैं, इसलिए आपको उन्हें अपने आहार में शामिल करना होगा। केल की 100 ग्राम सर्विंग, जो लगभग 1 1/2 कप है, में 11.4 मिलीग्राम ल्यूटिन होता है, और यह अनुशंसा की जाती है कि आप प्रति दिन 10 मिलीग्राम प्राप्त करें। ल्यूटिन में उच्च अन्य सब्जियां लाल मिर्च और पालक हैं।

केल को स्नैक चिप्स में बनाया जा सकता है. पहले पत्तों को धो लें, फिर उन्हें छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ लें; इसे जैतून के तेल में टॉस करें, और इसे 20 मिनट तक बेक करें, जब तक कि केल क्रिस्पी न हो जाए। आप उन्हें नमक के हल्के छिड़काव के साथ सीजन कर सकते हैं। आप काले को साइड डिश के लिए भी भून सकते हैं या सलाद में परोस सकते हैं।

9 संतरे (Oranges)

संतरे और अन्य खट्टे फलों में विटामिन सी होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। मुख्य रूप से ताजे फल और सब्जियों में पाया जाने वाला विटामिन आपकी आंखों में स्वस्थ रक्त वाहिकाओं में योगदान देता है। यह मोतियाबिंद के विकास का मुकाबला कर सकता है, और अन्य विटामिन और पोषक तत्वों के संयोजन में, उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन को रोकता है। संतरे का आनंद लेने के लिए, आप संतरे का रस पी सकते हैं, एक को नाश्ते के रूप में छील सकते हैं, या उन्हें फलों के सलाद में मिला सकते हैं।

10 गिंको बिलोबा (Ginkgo Biloba)

Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing
Image by Ulrike Leone from Pixabay

यह जड़ी बूटी eyesight में सुधार के लिए एक और आयुर्वेदिक उपाय है। दृष्टि में सुधार के अलावा, यह आपको ग्लूकोमा और धब्बेदार अध: पतन से भी बचाता है। कुछ अध्ययनों का कहना है कि यह retinopathy के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। यह जड़ी बूटी मधुमेह (diabetes) रोगियों को नहीं देनी चाहिए। इस जड़ी बूटी को चुनने से पहले, अपने चिकित्सक से जांच लें कि आपको इसका सेवन करना चाहिए या नहीं।

11 तांबे के बर्तन में पानी पिएं (Drink water in copper vessel)

एक सूक्ष्म पोषक तत्व के रूप में तांबे के लाभ असंख्य हैं, लेकिन इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह एक बहुत ही शक्तिशाली जीवाणुरोधी एजेंट है। आयुर्वेदिक चिकित्सक तांबे के बर्तन में रात भर संग्रहित एक लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं, जिससे आंखों और अन्य महत्वपूर्ण अंगों को असंख्य उपचार गुण मिलते हैं।

12 आँखों को पानी से धोएं (Wash your eyes with water)

आँखों को पानी से धोने से आपकी आंखों से तनाव को कम करने में मदद मिलती है। आप रोजाना कम से कम 4-5 बार अपनी आंखों में पानी के छींटे मार सकते हैं। यह हमारी eyes से अतिरिक्त गंदगी और धूल के कणों को हटाने में मदद करेगा और उन्हें ताजगी का एहसास भी दिलाएगा। Blood circulation में सुधार के लिए आप नियमित समय अंतराल पर अपनी आंखों पर गर्म या ठंडा सेक लगा सकते हैं। यह आपकी आंखों को धोने के साथ-साथ ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति को नियंत्रित करने में भी मदद करता है।

13 धनिये का रस (Coriander juice)

थोडा सा धनिये का रस लें और कुछ बूँदें दोनों आँखों में एक आई ड्रॉप की तरह डालें। अपनी आँखें कम से कम 10 बार झपके, चश्मे से छुटकारा पाने और अपनी eyesight में सुधार करने के लिए इस घरेलू उपाय को रोजाना करें। इस प्राकृतिक उपचार को आजमाने से पहले डॉक्टर से बात जरूर कर लें। वास्तव में, धनिया का रस घर पर आसानी से तैयार किया जा सकता है और चश्मे से छुटकारा पाने के लिए सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है। आप धनिया के जूस का सेवन भी कर सकते हैं।

14 गोजी बेरी (Goji berries)

Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing
Image by vesiraja from Pixabay

गोजी बेरीज में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो आंखों से संबंधित समस्याओं में मदद कर सकते हैं। वे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और आपकी आंखों के लिए अच्छे होते हैं, इससे चश्मे से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। गोजी बेरीज का सेवन विभिन्न रूपों में किया जा सकता है जैसे कि कच्चा, जूस और स्मूदी। आप अपनी आंखों के लिए और भी अधिक प्रभावी पेय बनाने के लिए गोजी बेरी और गाजर दोनों को मिला सकते हैं।

15 हरे पत्ते वाली सब्जियां (Green leafy vegetables)

बीन्स, पालक, ब्रोकली और ब्रसेल्स स्प्राउट्स सहित हरी पत्तेदार सब्जियां आंखों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं और आपकी दृष्टि में सुधार करने में मदद कर सकती हैं। पेट में किसी भी तरह के संक्रमण से बचने के लिए सभी सब्जियों को खाने से पहले अच्छी तरह धो लें। हरी सब्जियों को उबालना उनके सेवन के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है।

दृष्टि में सुधार करने के लिए 5 व्यायाम (5 Exercises To Improve Your Eyesight Naturally)

1 हथेलिओं को आपस में रगड़े (Palming)

पामिंग एक आसान व्यायाम है जो आंखों के तनाव को दूर करता है और आंखों की रोशनी को बढ़ाता है। व्यायाम करने के लिए, गर्मी उत्पन्न करने के लिए बस अपनी हथेलियों को आपस में रगड़ें। फिर धीरे से अपनी हथेली को कुछ सेकंड के लिए अपनी आंखों के सामने रखें और 5-7 बार दोहराएं।

2 आँख घुमाना (Eye rolling)

आंखों को घुमाना एक और आसान व्यायाम है जिसे आप कभी भी कर सकते हैं। कुछ मिनट के लिए अपनी आंखों को दक्षिणावर्त (clockwise) दिशा में घुमाकर शुरू करें। एक ब्रेक लें और आंखों को वामावर्त (anti-clockwise) दिशा में घुमाएं। 5 बार दोहराएं।

3 ध्यान केंद्रित करना – फोकस (Refocusing)

फिर से ध्यान केंद्रित करना एक ऐसा व्यायाम है जो आपको तब करना चाहिए जब आप अपने लैपटॉप पर लगातार काम कर रहे हों। अंतराल पर, स्क्रीन से दूर देखें और दूर किसी वस्तु पर ध्यान केंद्रित करें। अपनी हथेली को देखें और फिर दूर की वस्तु पर ध्यान केंद्रित करें। 5 बार दोहराएं।

4 20-20-20 नियम (20-20-20 rule)

कंप्यूटर पर काम करते हुए या फोन पर अपनी पसंदीदा सीरीज देखते समय, हर 20 मिनट में 20 फीट दूर किसी चीज को 20 सेकंड के लिए देखें।

5 पलक झपकाना (Blinking)

पलक झपकना हमारे पास स्वाभाविक रूप से आता है। लेकिन ब्लिंकिंग एक्सरसाइज के लिए आपके ठीक सामने एक खाली दीवार होनी चाहिए। 2 सेकंड के लिए अपनी आंखें बंद करके शुरू करें, फिर 5 सेकंड के लिए तेजी से खोलें और झपकाएं। 5-7 बार दोहराएं।

योग (Yoga)

योग आपके संपूर्ण स्वास्थ्य और आंखों के लिए भी फायदेमंद है। यह प्रभावी रूप से आपकी eyesight में सुधार कर सकता है और चश्मे से छुटकारा पाने के लिए एक उत्कृष्ट घरेलू उपचार के रूप में कार्य कर सकता है। अपनी आंखों के लिए, आप एक दीवार के सहारे शीर्षासन (do a headstand with the support of a wall) करने की कोशिश कर सकते हैं। ऐसा रोजाना सुबह करीब 10 मिनट तक करने से आपकी आंखों की रोशनी में चमत्कार हो सकता है। योग के साथ स्वस्थ आहार का सेवन अवश्य करें।

Eyesight बढ़ाने के 15 घरेलू उपाय: Protect before losing
https://healthandothers.com/100-inspiring-quotes-on-zindagi-life-in-hindi/

आंखों की सेहत के लिए टिप्स (Tips for eye health)

आँख भले ही कितनी छोटी हो उसमें पूरे आकाश को देखने का सामर्थ्य होता हैं.

आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए यह महत्वपूर्ण है कि आप नियमित रूप से अपनी आंखों की देखभाल करें। आंखों के लिए स्वस्थ भोजन खाना ही आंखों की सुरक्षा का एकमात्र तरीका नहीं है। अपनी आँखों को स्वस्थ रखने के अन्य तरीकों में शामिल हैं:

  • यदि आप धूम्रपान (smoking) करते हैं, तो छोड़ दें। यह न केवल आपके सामान्य स्वास्थ्य के लिए अच्छा है, बल्कि यह आपके नेत्र रोग के जोखिम को कम करेगा।
  • यदि आप contact lenses पहनते हैं, तो उन्हें संभालने से पहले अपने हाथ धो लें और उन्हें केवल recommendes time के लिए ही पहनें। Lense डालकर न सोएं। इससे आपकी आंखों में संक्रमण का खतरा कम हो जाएगा।
  • यदि आप लकड़ी, धातु या रसायनों के साथ काम कर रहे हैं, तो हमेशा protective eye wear पहनें।
  • जब आप कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हों तो ब्रेक लें।
  • धूप के चश्मे पहने। यह मोतियाबिंद, धब्बेदार अध: पतन, pterygium और पलक कैंसर सहित कई ocular diseases के आपके जोखिम को कम करेगा।
  • हर एक से दो साल में एक बार eye check-up करायें।
  • मधुमेह को नियंत्रित करना (Controlling diabetes): रक्त में शर्करा का उच्च स्तर धीरे-धीरे retina में रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे वे सूजन, रिसाव या अवरुद्ध हो जाते हैं। इसके परिणामस्वरूप निशान ऊतक और नई, असामान्य रक्त वाहिकाओं का विकास भी हो सकता है। उपचार के बिना, Diabetes retinopathy से eyesight बाधित हो सकती है। अच्छा रक्त शर्करा नियंत्रण बनाए रखने और वार्षिक नेत्र जांच कराने से मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी के विकास के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • अपनी आंखों को बार-बार न छुएं (Avoid Touching Your Eyes Frequently): ऐसा इसलिए है क्योंकि यह आपकी आंखों को संक्रमण की चपेट में ले आता है। आपकी आंखों में जलन पैदा करने वाली कोई भी चीज आपकी दृष्टि को प्रभावित कर सकती है। अपनी आंखों को छूने से पहले आपको हमेशा अपने हाथ साफ करने चाहिए। साथ ही अपनी आंखों को जोर से न रगड़ें। इसके परिणामस्वरूप कॉर्नियल घर्षण (या खरोंच कॉर्निया) हो सकता है। अगर आपकी आंखों में कुछ चला गया है, तो उन्हें पानी से धो लें। और अगर समस्या बनी रहती है, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।

Disclaimer: अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से सलाह लें।

HAO
HOME REMEDIES

Leave a Comment

Your email address will not be published.

 - 
English
 - 
en
Punjabi
 - 
pa
Hindi
 - 
hi
Mesmerizing टूरिस्ट अट्रैक्शन in North इंडिया Success Quotes Navratri Celebrations CUET-UG results by September 15 NTA UGC NET Admit Card 2022